व्यक्तित्व में निखार

Vyaktitva me nikhaar
                Vyaktitva me nikhaar

व्यक्तित्व क्या है-      ज्यादातर हम लोग किसी न किसी से ज्यादा प्रवाभित हो जाते है! लोगों की भीड़ में हमें ऐसा कोई व्यक्ति जरूर मिल जाता है, जो भीड़ में   अलग पहचान बनाने में उसकी मदद करता है,और लोगों की निगाहें उस पर टिक जाती है! घर आकर भी वह भुलाए नहीं भूलता,और आप अपने आपको उसकी तरह बनाना चाहते है! किसी भी व्यक्ति को अधिक सुन्दर बनने के लिए यह जरूरी नहीं कि वह रोज़-रोज़ ब्यूटी पार्लर जाकर पैसे बर्बाद किये जाये,जरुरी है तो सिर्फ इतना की अपनी दिनचर्या में से थोड़ा-सा समय अपने लिए भी शामिल करे! इससे आपके जीवन में निरंतर परिवर्तन होगा,और स्वयं को भी पता नहीं चलेगा कि व्यक्तित्व,व्यक्तित्व वृद्धि व सुंदरता दोनों के समन्वय से बनता है, और इसी कारण से सौंदर्य परीक्षा की प्रतियोगिता होती है! जिसमें उत्तीर्ण होने वाले को यह ख़िताब मिलता है!

 

सबसे पहले आईने के सामने खड़े होकर अपने आपको नीचे से ऊपर तक आलोचनात्मक दृष्टि से देखिये और अपने दोषों और गुणों को पहचानिए!क्या आपकी बात-चीत करने का अंदाज़, आपके चलने का ढंग, उठने-बैठने का ढंग क्या वास्तव में आकर्षक है! उन्हें पहचान कर अपने दोषों को छुपाने व गुणों को निरंतर उभारने का प्रयास करें! समय के साथ-साथ आपके गुण आपके दोषों को खत्म कर देंगे! अच्छे व्यक्तित्व के लिए सौंदर्य प्रसाधनों को उचित प्रकार से उपयोग करना आना चाहिए! मेकअप एक ऐसी कला है , जिससे आप सही प्रकार से सुन्दर बन सकते है, और गलत प्रकार के इस्तेमाल से आप हंसी का पात्र बन सकते है! इसलिए कहाँ, क्या और कौन-सा प्रसाधन कब और कैसे प्रयोग करना है, इसकी जानकारी होना भी आवश्यक है! आपकी सुंदरता का खजाना आपके अंदर छिपा रहता है! आवश्यकता है, तो उसे पहचानने और निखारने की! सिर्फ सुन्दर चेहरा ही सुंदरता का पैमाना नहीं होता, इसमें सुन्दर चेहरा, शरीर की और रंगों का चुनाव सभी शामिल है!

!

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *