बालों में शैम्पू करने का सही तरीका

 

Baalon mein shampoo karne ka sahi tarika
Baalon mein shampoo karne ka sahi tarika

बालों में शैम्पू करने का सही तरीका

बालों में शैम्पू करने का सही तरीका भी होता है इसके बारे में ज्यादातर लोगों को पता ही नहीं होता ! अपने बालों में शैम्पू करते समय यह देख ले की आप बालों को सावधानी पूर्वक साफ़ कर रही है, या नहीं !अधिकांश महिलाओ को बालों में शैम्पू करने का ज्ञान नहीं होता ! जिस प्रकार चेहरे की सावधानी पूर्वक साज-संभाल की जाती है, वैसे ही बालों की भी देखभाल की जानी चाहिए ! आज हम आपको बताएँगे बालों में शैम्पू करने का सही तरीका !

अधिकाँश महिलाएं बालों को धोते समय रगड़ती,झटकती,पटकती और खींचती है! इसके बाद हेयर ड्रायर की गर्म हवा से बहुत बेदर्दी के साथ सुखाती है,जबकि बाल अत्यंत नाजुक और कोमल होते है! इन्हे बहुत ही सावधानी पूर्वक  सजाना एवं सवारना चाहिए! इन्हें प्रदूषित पदार्थों से बचाना चाहिए!

यदि आपके बाल तैलीय है, तो इन्हे लगभग प्रतिदिन साफ करना चाहिए! बालों की सफाई करते समय यह भी ध्यान रखना चाहिए की बालो को रगड़ा न जाए!

विभिन्न प्रकार के बालों को शैम्पू द्वारा धोते समय उन्हें सावधानी पूर्वक सबसे पहले गीला कर ले,इसके बाद शैम्पू को थोड़े-से पानी में डालकर उसे अपने बालो पर धीरे-धीरे लगाते हुए हलके हाथों से करीब 5-6 मिनट मालिश करे!

इसके बाद अच्छी तरह से पानी की तेज धार से बालो को धोये, ताकि बालों से शैम्पू अच्छी तरह निकल जाए! बालों में इस तरह की सावधानी बरतनी अति आवश्यक है!

सामान्य बाल   :

ऐसे बालों को सजाने सवारने में ज़्यादा समस्याए नहीं होती! ऐसे बालों को सप्ताह में एक या दो बार हल्के शैम्पू से धोना चाहिए! अच्छे शैम्पू का चुनाव उसकी सुगंध और झाग के आधार पर नहीं करना चाहिए!

यह ज़रूरी नहीं की सुगंध या अधिक झाग देने वाला शैम्पू आपके बालों के लिए लाभकारी है! अच्छा शैम्पू वही है, जो आपके बालों को आवश्यक पोषण देकर उन्हें स्वस्थ रखे!

इसमें सुगंध व् झाग की मात्रा कम भी हो सकती है! बालों को धोते समय सबसे पहले बाल गीले केरे, इसके बाद शैम्पू को उचित मात्रा में लगाये!

सिर की त्वचा पर बालों की जड़ो में शैम्पू की सहायता से अच्छी तरह मालिश मुलायम हाथों से करे! बालो को घिसे नहीं, कुछ मिनट बाद बालों को धो दे, तथा दो बार शैम्पू लगाए!

इस प्रकार बालों की सफाई सप्ताह में दो बार करनी चाहिए! यदि आप बालों को स्थायी रूप से सवारना चाहती है ,तो कंडीशनर का प्रयोग करे! छप-छपाकर बालों को सुखाना चाहिए,और बालों को रगड़कर न सुखाएं क्योंकि इससे बाल खिंचकर टूट सकते है!

बालों को हेयर ड्रायर से सुखाने की बजाय हलकी नमी के ब्रश की सहायता से सुखाना चाहिए! अधिक गर्मी देकर सुखाने से बालो में समस्याएं उत्पन्न हो सकती है!

तैलीय बाल   :-

अधिक समस्याएं तैलीय बालों में होती है, तनाव तथा असंतुलित स्त्राव से भी कुछ समस्याएं हो सकती है! इसके अतिरिक्त थायराइट ग्रंथि का ठीक प्रकार सक्रिय न रहना तैलीय बालों की समस्या का कारण बनता है!

आपको इस सम्बन्ध में बहुत ही सावधानी से काम लेना चाहिए! चिकनाई युक्त आहार या चावल, चॉकलेट आदि का सेवन नहीं करना चाहिए! चिपचिपाहट, तथा तेल लगे बालों को धो दे! अन्यथा तेल लगे बालों में धूल-मिटटी चिपककर उन्हें नुक्सान पंहुचा सकती है!

बालो में शैम्पू करने के लिए नींबू युक्त शैम्पू का प्रयोग करे,शैम्पू पानी में मिलाकर बालों की जड़ो में अच्छी तरह लगाए! बाल धोते समय यह ध्यान रखे की धुल-मिटटी के साथ पूरा शैम्पू भी बालों से निकल जाए!

बालो को अंतिम बार धोते समय सिरका या नींबू का रस मिला ले! बालों के लिए सरल स्टाइल अपनाये! साफ़ चमकीले बाल सरल स्टाइल में भी अच्छे लगते है!

शुष्क बाल  : –

शुष्क बालों को सप्ताह में एक या दो बार किसी हलके शैम्पू से धोये और कंडीशनर का भी प्रयोग करे! कंडीशनर से बालों को अच्छी प्रकार से धोये, ताकि बालों में चिपचपाहट ना रहे!

बालों को धोते समय बालों में पहले हलकी उंगलिया चलाये! सिर की अधिकतम गन्दगी बालो की जड़ो में समायी रहती है! यदि रुसी झड़ती है, तो रुसी वाले शैम्पू का प्रयोग करे!

यदि समस्या ज्यों की त्यों बनी रहती है तो, केश विशेषज्ञ से सलाह ले! आप चाहे तो निम्नलिखित उपचार दो सप्ताह कर सकती है! बालों में हिना मेहंदी लगाएं और गर्म पानी से भीगा तौलिया सिर पर लपेटे आधा घंटे बाद सिर को धो दे और शैम्पू करे!

बालों की सेटिंग के लिए तेज़ हेयर स्प्रेट का प्रयोग ना करे! इनके प्रयोग से बाल निर्जिव तथा मुरझाये से लगते है! आपकी मुख्य समस्या स्किन का स्त्राव है! सिर की नियमित मालिश करे ,मालिश का सबसे अच्छा तरीका है, सिर की त्वच पर उँगलियों को गोल- गोल घुमाना!

एक स्थान पर कुछ समय तक उंगलियां घुमाने के बाद सिर के दूसरे भाग पर उंगलियो को रखकर इस प्रकार हल्का-हल्का तेल डालते हुए घुमाये इससे सिर को आराम मिलता है!

इस कार्य को कहीं भी किसी भी समय किया जा सकता है! लेकिन अच्छा है, की मालिश के लिए चाहे आपके परिवार का कोई अन्य सदस्य या कोई मित्र प्यारा स्पर्श करते हुए करे !

( अभी आप ये जानकारी gkwebsite.com पर पढ़ रहे है ! )

दोस्तों ये पोस्ट आपको कैसे लगी । हमें अपने विचार नीचे कमेंट बॉक्स में दे ।

 

 

 

Fields marked with an * are required
4 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *